Sunday, June 26, 2016

इंस्पेक्टर ने बचाई दो बेटियों की जिंदगी, गुस्सा होकर पहुंच गई थी जीबी रोड

दिल्ली पुलिस के इंस्पेक्टर की मुस्तैदी ने शनिवार देर रात दो बहनों की जिंदगी बचा ली। पिता की डांट फटकार से नाराज होकर छावला एरिया में रहने वाली दो छात्राएं घर छोड़कर निकल गईं और भटकती हुई जीबी रोड तक जा पहुंची।


दोनों बहनों पर गलत लोगों की नजर पड़ती, उससे पहले ही दिल्ली पुलिस के इंस्पेक्टर ने उन्हें भटकते हुए देख लिया। इंस्पेक्टर ने रात को इस इलाके में घूमने का कारण पूछा और संदेह होने पर दोनों को सुरक्षा के लिए सीधे कमला मार्केट पुलिस स्टेशन ले आया।

साथ ही दिल्ली महिला आयोग की हेल्पलाइन पर सूचना देकर मदद मांगी। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के मुताबिक, इंस्पेक्टर ने महिला हेल्पलाइन 181 पर सूचना दी कि दो लड़कियां भटकती हुई मिली हैं।

स सूचना पर आयोग की टीम कमला मार्केट पुलिस स्टेशन पहुंची। आयोग सदस्यों को कविता(18) व  कृपा(19) (नाम परिवर्तित) ने बताया कि वे छावला एरिया में रहती हैं।

महिला आयोग की मदद से सुरक्षित घर पहुंची लड़कियां

तीन दिन पहले पिता ने किसी बात पर बहन को डांट दिया। इससे नाराज होकर वे दोनों बिना किसी को बताए घर छोड़कर निकल गईं। पहले दो दिन तक बंगला साहिब गुरुद्वारा में रहीं।

उन्होंने बताया कि इसके बाद हम भटकते हुए रात को जीबी रोड पहुंच गए। इसी बीच उक्त इंस्पेक्टर ने हमें देख लिया और पूछताछ की।

पुलिस स्टेशन पहुंचकर महिला आयोग की काउंसलर ने दोनों बहनों की  काउंसलिंग की। इसके बाद उनके परिजनों को सूचना दी गई।

इस तरह पुलिस ने दिल्ली महिला आयोग की मदद से लड़कियों को सुरक्षित उनके घर पहुंचा दिया। उधर परिवार ने भी छावला थाने में बेटियों की  गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

No comments:

Post a Comment