Saturday, March 25, 2017

Big Success for India in VIjay Mallya extradition from UK

विजय माल्या को भारत लाने के मामले में बड़ी कामयाबी मिली है। ब्रिटेन सरकार ने प्रत्यर्पण की मांग स्वीकार कर ली है।, इसी के साथ कांग्रेस में खलबली मच गई है।



भारत के भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या को लेकर एक बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है। माल्या पर बैंकों के हजारों करोड़ रूपये लेकर फरार होने का आरोप है। देश के कई बैंकों से उन्होंने कर्ज लिया था। बाद में उस कर्ज को बिना चुकाए वो भारत से फरार हो गए। भारत से फरार होने के बाद माल्या लंदन में रह रहे हैं। माल्या के कारण विरोधी दलों ने पीएम मोदी पर लगातार निशाना साधा। माल्या का भारत से फरार होना एक सियासी मुद्दा होने के साथ साथ चुनावी मुद्दा तक बन गया था। कांग्रेस लगातार मोदी पर आरोप लगा रही है कि उन्होंने माल्या को फरार होने में मदद की है। राहुल गांधी अपनी चुनावी रैलियों में इसका जिक्र करते थे।
संबित पात्रा ने निकाल दी राहुल गांधी की हवा ! माल्या पर दिखाए ‘कांग्रेसी कृपा’ का सबूत !
अब विजय माल्या को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है। भारत सरकार लगातार ब्रिटेन सरकार के साथ माल्या के प्रत्यर्पण को लेकर बात कर रही थी। इसका नतीजा अब दिखाई देने लगा है। ब्रिटेन सरकार ने शराब कारोबारी माल्या के प्रत्यर्पण की मांग को स्वीकार कर लिया है। ये बहुत बड़ी खबर है। इसके बाद अब माल्या को भारत लाने का रास्ता साफ होता दिखाई दे रहा है। प्रत्यर्पण की मांग को स्वीकार करने के बाद ब्रिटिश सरकार ने इस मांग को वेस्टमिनस्टर कोर्ट के सामने रखा है। अब कोर्ट को ये फैसला करना है कि वो माल्या को भारत भेजे या फिर नहीं। उम्मीद जताई जा रही है कि ब्रिटेन सरकार की मंजूरी के बाद कोर्ट भी माल्या के प्रत्यर्पण को लेकर कोई अवरोध नहीं खड़ा करेगा।

No comments:

Post a Comment