Friday, March 24, 2017

UP-KAN kanpur family tweets up cm in molestation case gets prompt result

दबंगों से परेशान फैम‍िली ने CM से ट्वीट कर मांगी मदद, योगी से म‍िली हेल्प


कानपुर. दबंगों की छेड़छाड़ और धमकियों से परेशान एक फैम‍िली ने यूपी के नए सीएम योगी आदित्यनाथ से ट्वीट कर मदद की गुहार लगाई। इसका असर ये हुआ क‍ि मामले में पहले लापरवाही बरत रही पुलिस एक्टिव हो गई और बुधवार को आरोप‍ियों के ख‍िलाफ एफआईआर दर्ज की गई। आरोपी पुलिसवालों को लाइन हाज‍िर भी किया गया है।



- कानपुर के कल्याणपुर इलाके में रहने वाले बुद्ध रतन गौतम ने बताया, ''मेरे मोहल्ले में सुजीत गौतम नाम का शख्स रहता है। पिछले साल 15 अक्टूबर को देर शाम शराब के नशे में धुत्त सुजीत ने हमारे घर के बाहर टॉयलेट कर दिया।''
- ''घर से सटी हमारी दुकान पर बैठीं मेरी पत्नी राम कुमारी ने सुजीत को वहां टॉयलेट करने से मना किया। इस पर वो झगड़ा करने लगा और मेरी पत्नी को एक थप्पड़ भी मार दिया।'' 
- ''उस समय मोहल्लेवालों ने सुजीत को समझा-बुझाकर घर भेज दिया। फ‍िर कुछ द‍िनों बाद वह अपने घर पर चौकी के एक सिपाही सर्वेश यादव को बुलाने लगा। दोनों शराब पीकर मोहल्ले में गाली-गलौच करने लगे। लोगों ने इसका विरोध किया तो सर्वेश ने सिपाही होने का रौब दिखाकर झूठे केस में लोगों को फंसाने की धमकी देनी शुरू कर दी। इसके बाद लोगों ने दोनों से बोलना बंद कर दिया।''
बेटियों को छेड़ने लगा आरोपी, घर के अंदर घुसकर परिवार को मारा
- बुद्ध रतन ने बताया, ''मेरी 4 लड़कियां और 1 लड़का है। पुलिस की शह पर सुजीत और उसका बेटा रोहन मेरी बेटियों से भी छेड़खानी करने लगे। लड़कियां कॉलेज या किसी भी काम से घर से बाहर निकलें तो रोहन और उसका बाप सुजीत मेरी बेटियों को परेशान करने लगे।'' 
- ''13 मार्च को होली के दिन मेरा बेटा बाहर जाने के लिए गाड़ी निकाल रहा था। बेटी दरवाजा खोलने के लिए गई तो सुजीत अपने 5 साथियों के साथ मेरी बेटी को पकड़कर रंग लगाने लगा और अश्लील हरकत करने लगा।'' 
- ''जब बेटी ने शोर मचाया तो आरोपी उसे जमीन पर गिराकर बुरी तरह पीटने लगे। बेटी के चेहरे पर चापड़ से वार भी किया। सुजीत और उसके साथियों ने मेरी बेटी को इतना मारा कि वो बेहोश हो गई।'' 
- ''इसके बाद नशे की हालत में आरोपी घर के अंदर घुस आए और पूरे परिवार को बुरी तरह मारा। सुजीत ने इस तरह बदसलूकी की कि दो लड़कियों की जान जाते-जाते बची।''
पीड़ित पुलिस से लगाते रहे गुहार, पर नहीं हुई सुनवाई
- बुद्ध रतन की एक बेटी ने बताया, ''होली के बाद से ये लोग मेरे परिवार को हर दिन कॉलोनी छोड़कर जाने को कह रहे थे। ऐसा नहीं करने पर वे जान से मारने और रेप की धमकी देने लगे।'' 
- ''अप्रैल में मेरी बहन की शादी है। आरोपी शादी नहीं होने की भी धमकी देने लगे। घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया। थाने का चक्कर लगाते-लगाते पापा थक गए, लेकिन पुलिसवालों ने कोई कार्रवाई नहीं की। 
- ''मजबूर होकर हमने घर में बिना किसी को बताए सीएम योगी आदित्यनाथ को ट्वीट किया। ट्वीट करने के बाद मंगलवार देर रात पुलिस घर पर आई और मामले की पूरी जानकारी ली।'' 
- ''बुधवार सुबह हम लोगों की तरफ से एफआईआर दर्ज करवाई गई। इसके बाद चौकी के दरोगा और सिपाही को लाइन हाजिर कर लिया गया।''
अब पुलिस का क्या कहना है?
- एसपी सिटी सचिन पटेल ने बताया, ''मैं खुद इस मामले को देख रहा हूं। फैमिली के ट्वीट के बाद लखनऊ से डीजीपी ऑफिस से मेरे पास कॉल आई। मुझे इस केस में तुरंत रिपोर्ट सबमिट करने को कहा गया। मैं पर्सनली फैमिली से म‍िलने गया और उनके मेड‍िकल एग्जामिनेशन का भी अरेंजमेंट किया।''
- ''पीड़ित पक्ष की तरफ से एफआईआर दर्ज करवाई गई है। आरोपियों को पकड़ने के लि‍ए 3 टीमें बनाई गई हैं। फैमिली को स‍िक्युर‍िटी दी गई है। आवास विकास-3 चौकी दरोगा विनोद कुशवाहा और सिपाही सर्वेश यादव को लाइन हाजिर क‍िया गया है।''

No comments:

Post a Comment