Tuesday, April 18, 2017

Liquor Baron Vaijay Mallya arrested in London

13 महीने से फरार माल्या लंदन में अरेस्ट, बैंकों के 9000 Cr के हैं कर्जदार




लंदन. विजय माल्या को मंगलवार सुबह स्कार्टलैंड यार्ड पुलिस ने अरेस्ट किया। ऐसा कहा जा रहा है कि माल्या को वेस्टमिंस्टर कोर्ट में पेश किया जाएगा। भारत लगातार माल्या को देश वापस लाने की कोशिश में जुटा हुआ है। माल्या पर भारतीय बैंकों का 9 हजार करोड़ का कर्ज है। भारत सरकार उन्हें भगोड़ा करार दे चुकी है। बता दें कि विजय माल्या पिछले साल 2 मार्च को देश छोड़कर लंदन भाग गए थे।भारत ने यूके सरकार के सामने मदद मांगी थी...
- विजय माल्या पर मनी लॉन्ड्रिंग और बैंकों का 9000 करोड़ रुपए से ज्यादा का कर्ज ना चुकाने का आरोप है। इन्फोर्समेंट डायरेक्ट्रेट (ईडी) और सीबीआई को माल्या की तलाश है।
- प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) से जुड़े एक मामले में मुंबई की स्पेशल कोर्ट माल्या को भगोड़ा घोषित कर चुकी थी। इसके लिए ईडी ने कोर्ट में अर्जी लगाई थी। कई बार नोटिस के बावजूद माल्या पेश नहीं हुए।
- भारत ने विजय माल्या को भारत लाने के लिए यूके सरकार से मदद मांगी थी।
ED-सीबीआई ने की माल्या को वापस लाने की मांग
- प्रत्यर्पण के लिए ईडी, 1992 में भारत और ब्रिटेन के बीच हुई म्यूचुअल लीगल असिस्टेंस ट्रीटी (MLAT) को टूल के तौर पर इस्तेमाल कर रही है। जांच एजेंसी माल्या के खिलाफ मुंबई कोर्ट से जारी हुए गैर-जमानती वारंट की तामीली के लिए इंडियन फॉरेन मिनिस्ट्री से अपील कर चुकी थी।
- MLAT के तहत दोनों देशों के बीच आपराधिक मामलों में आरोपी शख्स को एक-दूसरे को सौंपा जा सकता है। सबूत देने और जांच में सहयोग करने के मकसद से आरोपी की कस्टडी भी शामिल है।
- मनी लॉन्ड्रिंग और लोन डिफॉल्ट केस में आईपीसी के सेक्शंस के तहत सीबीआई जांच के आधार पर फॉरेन मिनिस्ट्री ने भी माल्या के प्रत्यर्पण की अपील की थी।




No comments:

Post a Comment